08 Mar 2018

स्वामीआयुर्वेद स्वास्थ्यसूत्रमाला - 50

आधुनिक दिनचर्या भाग 1 - चाय सेवन


Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu) 08 Mar 2018 Views : 442
Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu)
08 Mar 2018 Views : 442

आयुर्वेदीय दिनचर्या मे चाय जैसे पेय पदार्थ के सेवन का कही भी कोई उल्लेख नही। इसलिए दिनचर्या की इस श्रृंखला मे आधुनिक जीवन का अपरिहार्य हिस्सा बन चुँके कुछ दैनिक कर्मों का आधुनिक दिनचर्या के अंतर्गत वर्णन किया जा रहा है। चाय, प्रातःकालीन अल्पाहार (Breakfast) माध्यन्होत्तर अल्पाहार (Snacks) यह सभी प्रवृत्तियाँ इस आधुनिक दिनचर्या मे समाहित है। read more

22 Feb 2018

स्वामीआयुर्वेद स्वास्थ्यसूत्रमाला - 49

दिनचर्या भाग 15 - मैथुनम


Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu) 22 Feb 2018 Views : 1701
Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu)
22 Feb 2018 Views : 1701

दिनचर्या भाग 15 - मैथुन (Sexual Intercourse)

मैथुन अर्थात संभोग (sexual intercourse)। मैथुन वस्तुतः दिनचर्या के अंतर्गत नही आता। परंतु पाश्चात्य विचारों के प्रभाव से आजकल लोग इसका भी नियमित सेवन करते है। इसलिए दिनचर्या के श्रेणी में इसके बारे में भी जानकारी देना उचित समझा। आयुर्वेद मे मैथुन कर्म की वारंवारता का उल्लेख ऋतुचर्या मे किया है, न की दिनचर्या मे। इससे स्पष्टतः ......

read more

08 Feb 2018

स्वामीआयुर्वेद स्वास्थ्यसूत्रमाला - 48

दिनचर्या भाग 14 - शयनम


Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu) 08 Feb 2018 Views : 903
Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu)
08 Feb 2018 Views : 903

दिनचर्या भाग 14

शयनम (Sleep)

शयनम अर्थात सोना (sleeping)। दिनचर्या मे सायंभोजनम के बाद सोने का समय होता है।अर्थात भोजन सेवन के 3 घण्टे बाद ही सोने का समय होता है, भोजन के बाद तुरंत नही। परंतु कुछ व्यवसायी लोग देर रात को घर आते है, खाना खाते है और तुरंत सो जाते है। ऐसा नही करना चाहिए। यही सातत्य अगर वर्षों तक रहा पाचन के विविध विकार ......

read more

01 Feb 2018

स्वामीआयुर्वेद स्वास्थ्यसूत्रमाला - 47

दिनचर्या भाग 13 - सायंभोजनम


Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu) 01 Feb 2018 Views : 856
Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu)
01 Feb 2018 Views : 856

दिनचर्या भाग 13 - सायंभोजनम (Dinner)

कुछ मुद्दे एकदम सामान्य होने की वजह से आयुर्वेद के आचार्यो ने दिनचर्या वर्णन करते वक्त उन मुद्दों का वर्णन नही किया। क्योंकि ये मुद्दे, जो आज हमारे लिए अहम है, वो उस काल मे अतिसामान्य थे। एक अनपढ व्यक्ति भी परंपरागत तरीके से उन मुद्दों के बारे मे जानकारी रखता था और इसलिए ही आचार्यो ने उन मुद्दों को लिपिबद्ध करने क......

read more

25 Jan 2018

स्वामीआयुर्वेद स्वास्थ्यसूत्रमाला - 46

दिनचर्या भाग 12 - ताम्बूलसेवनम


Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu) 25 Jan 2018 Views : 1098
Vaidya Somraj Kharche, M.D. Ph.D. (Ayu)
25 Jan 2018 Views : 1098

भोजन मे मधुरादि रसों से परिपूर्ण खाद्यपदार्थ होते है। इसलिए भोजनोत्तर मुख मे चिकनाहट उत्पन्न होती है। अगर मीठा या वसायुक्त (fatty) पदार्थ ज्यादा हो तो यह चिकनाहट जरा ज्यादा ही उत्पन्न होती है। इसलिए भारतीय आहारशास्त्र मे भोजनोत्तर मुखवास का उपयोग सूचित किया गया है। मुखवास के रूप मे आजकल तरह तरह के पदार्थ बाजार मे उपलब्ध है। जो स्वतः इतने मीठे होते है की भोजन के बाद मुख मे उत्पन्न हुई चिकन......

read more